सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) एक सरकारी बचत योजना है जो भारत सरकार द्वारा शुरू की गई है, जिसका मुख्य उद्देश्य बेटियों के लिए वित्तीय सुरक्षा प्रदान करना है। इस योजना के अंतर्गत वालिका शिशु के नाम पर एक निश्चित समयावधि के लिए निवेश किया जाता है, और इसके परिणामस्वरूप एक निर्धारित समय पर पैसे जमा होते हैं जिन्हें उस शिशु के भविष्य के लिए उपयोग किया जा सकता है। इस योजना को “सुकन्या समृद्धि खाता” के रूप में जाना जाता है।

यहां सुकन्या समृद्धि योजना के मुख्य प्रावधानों का विवरण है:

  1. योजना के लाभार्थी: इस योजना के लाभार्थी वालिका शिशु के माता-पिता होते हैं। एक परिवार में दो बेटियां इस योजना के लिए पात्र होती हैं, जबकि उनकी आयु 10 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  2. खाता खोलने की आयु: सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के लिए बेटियों की आयु 10 वर्ष से कम होनी चाहिए।
  3. निवेश की सीमा: वालिका शिशु के नाम पर खाता खोलने पर प्राथमिक निवेश की अधिकतम सीमा 1.5 लाख रुपये होती है।
  4. निवेश की अवधि: सुकन्या समृद्धि योजना की निवेश की अवधि 15 वर्ष होती है, और निवेशकों को हर साल निवेश करने की आवश्यकता होती है।
  5. ब्याज दर: सुकन्या समृद्धि खातों को ब्याज दर पर निवेश किया जाता है, और यह ब्याज दर समय-समय पर सरकार द्वारा निर्धारित किया जाता है।
  6. जमा और निकासी: निवेशकों को हर साल निवेश करने की आवश्यकता होती है, और निकासी की अनुमति बेटी की विवाह या उसकी उपयोगिता उद्देश्यों के अनुसार दी जाती है।
  7. कर का लाभ: सुकन्या समृद्धि योजना के तहत निवेश को इनकम टैक्स के तहत 80C के अंतर्गत कर का छूट मिलता है।
  8. अच्छी शिक्षा और शादी के लिए: इस योजना के माध्यम से जमा किए गए पैसे बेटी की उच्च शिक्षा और शादी के लिए उपयोग किए जा सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना एक पैरेंट्स के लिए उनकी बेटियों के भविष्य के लिए एक महत्वपूर्ण वित्तीय योजना है, जिसके तहत वे एक सुरक्षित और सुखमय जीवन की ओर कदम बढ़ा सकते हैं।

खाता केसे खुलवाये

form link

https://www.indiapost.gov.in/VAS/DOP_PDFFiles/form/Accountopening.pdf

सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana) खाता खोलने के लिए निम्नलिखित कदमों का पालन करें:

  1. पोस्ट ऑफिस या बैंक का चयन करें: सुकन्या समृद्धि योजना के खाता खोलने के लिए आपको उसे प्रदान करने वाले बैंक या पोस्ट ऑफिस का चयन करें। आप अपने पास के पोस्ट ऑफिस या बैंक शाखा पर जा सकते हैं जो इस योजना की सुविधा प्रदान करता है। अधिकांश नेशनलाइज्ड बैंक्स और कुछ प्राइवेट बैंक्स इस स्कीम की सेवा प्रदान करते हैं।
  2. आवेदन पत्रक जमा करें: बैंक या पोस्ट ऑफिस से सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के लिए आवेदन पत्रक प्राप्त करें। आप अगर बैंक या पोस्ट ऑफिस की आधिकारिक वेबसाइट से भी फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं, यदि यह उपलब्ध है।
  3. पत्रक भरें: आवेदन पत्रक को सावधानीपूर्वक भरें। आपको बेटी के नाम, जन्म तिथि, माता-पिता/संरक्षक के विवरण और प्राधिकृत व्यक्ति के विवरण जैसी जानकारी प्रदान करनी होगी। सुनिश्चित करें कि आपके पास सभी आवश्यक दस्तावेज हैं।
  4. दस्तावेज सत्यापन: सत्यापन के लिए आवश्यक दस्तावेज प्रदान करें। सामान्य रूप से, आपको निम्नलिखित दस्तावेज प्रदान करने की आवश्यकता होती है:
    • बेटी का जन्म प्रमाण पत्र
    • माता-पिता/संरक्षक का पता प्रमाण
    • माता-पिता/संरक्षक की पहचान प्रमाण
    • पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ
  5. प्रारंभिक जमा: खाता खोलने के लिए प्रारंभिक जमा करनी होगी। न्यूनतम जमा राशि विभिन्न हो सकती है और बदल सकती है, इसलिए मौजूदा न्यूनतम जमा आवश्यकता के लिए बैंक या पोस्ट ऑफिस से जांच करें।
  6. आवेदन प्रस्तुत करें: पूर्ण आवेदन पत्रक के साथ आवश्यक दस्तावेज और प्रारंभिक जमा को बैंक या पोस्ट ऑफिस में प्रस्तुत करें। वे आपका आवेदन प्रसंस्करण करेंगे और आपके खाते को खोलेंगे।

ब्याज दर:

Interest Rates8% per annum (Q3 FY 2023-24)
Investment PeriodTill 15 years from the date of account opening
Maturity Period (Sukanya Samriddhi Yojana Age Limit)21 years or until girl child marries after the age of 18
Minimum Deposit AmountRs. 250

By usafastestnews.com

blogger

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *